ऑनलाईन शॉपिंग के समय रखें इन बातों का ध्यान!

Spread the love

मोबाईल का स्मार्ट फोन हो जाने के बाद से ऑनलाईन शॉपिंग यानी बाजार का स्वरुप बदल गया है । यंग लोगों में इसका क्रेज बढ़ता नजर आ रहा है । कई ऑनलाईन शॉपिंग साइट्स खुल गये हैं अतः दुकानों की तरह ऑनलाइन पर बहुत से ऑप्शन हमें मिल गए हैं । इन दिनों Amazon, Flipkart, Snapdeal,Myntra,Paytm,YepMe, Jabong आदि ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स मोबाइल ऐप के माध्यम से उपलब्ध हो गई हैं । ये साइट्स आपको नए-नए प्रॉडक्ट, कलेक्शन, सेल के बारे में जानकारी भेजते रहते हैं । नए स्टॉक, डिस्काउंट का भी अपडेट मिलता रहता है, इन्हीं साईट्स पर । यह देखा गया है कि लोग ज्यादातर इलेक्ट्रानिक वस्तुओं और मोबाइल खरीदने के लिए ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं । साइट्स से कपड़े और घर की चीजें खरीदी जाती है ।

 

मजे की बात है कि ऑनलाइन शॉपिंग में बार्गेनिंग की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है । पे टीएम व्दारा यदि खरीदारी कर रहे हों तो मेसेज भेजकर बिक्रेता से भावताल कर सकते हैं । पट गया तो समझो सौदा हो गया। फिलहाल विशिष्ट स्मार्ट फोन में ही, यह सुविधा है, पर भारतीय मानसिकता को खूब समझने वाले मार्केट के बादशाह बार्गेनिंग की सुविधा हर ऐप्स और साइट्स पर मुहैया करेंगे, इसमें कोई शक नहीं ।

 

बहरहाल ऑनलाइन शॉपिंग के समय इन बातों का ध्यान रखें…

  1. ऑनलाइन शॉपिंग करने स पहले यह सुनिश्चित करें की आप सुरक्षित पेमेंट गेटवे में हो।
  2. अपना क्रेडिट कार्ड का नंबर खास कर तीन अंको वाला सीवीवी नंबर गोपनीय रखें ।
  3. क्रेडिट कार्ड व्दारा जो भी खरीदारी होती है, उसमें एसएमएस अलर्ट ऑप्शन का उपयोग करें ताकि अपने पास ऑनलाइन शॉपिंग का सबूत रहें ।
  4. यथासंभव साईबर कैफे से शॉपिंग न करें ।
  5. ऑनलाइन शॉपिंग के समय पिन नंबर एवं पासवर्ड याद रखना बहुत जरुरी होता है ।
  6. थोड़-थोड़े समय के बाद पासवर्ड बदलते रहिए ।
  7. पासवर्ड कहीं भी लिख कर मत रखिए ।
  8. यदि पासवर्ड किसी को मालूम हो गया तो उसका मिस यूज हो सकता है, जो आपको बहुत महंगा पड़ेगा ।
  9. ऑनलाइन शॉपिंग व्दारा जो चीज आप खरीद रहे हो, उसके बारे में सही जानकारी प्राप्त कर लें वरना कोई और चीज घर पहुच जाएगी ।
  10. ध्यान रखें क्रेडिट कार्ड से जो सौदे होते हैं, वह कार्ड के पीछे काले रंग की चुंबकीय पट्टी पर सांकेतिक भाषा में अंकित जानकारी या नंबर के अनुसार होते है । इस पट्टी को कॉपी करना या हैक करना आसान होता है । अतः पूरी सावधानी बरतें ।

 – जानवी दोशी । हिंदी कालनिर्णय । जून २०१६